नरेश अग्रवाल जैसों की पड़ती है युद्ध में जरुरत,इसलिए बीजेपी ने किया शामिल पढ़े पूरी खबर !

नरेश अग्रवाल को बीजेपी ने अपनी पार्टी में शामिल कर लिया है और यह बात भी बीजेपी बहुत अच्छी तरह से जान गई है की नरेश अग्रवाल को पार्टी में शामिल करने से बीजेपी के कार्यकर्ता बिल्कुल भी खुश नही है, लेकिन बीजेपी ने नरेश अग्रवाल को बहुत ही सोच और विचार करने पर पार्टी में शामिल किया गया है|

source

हम आपको जानकारी के लिए बता देंकि नरेश अग्रवाल के पार्टी में आने से पार्टी को बोट बैंक का कोई फायदा नही है,क्योकि नरेश अग्रवाल जनाधार बाले नेता है. सबसे बड़ी बाय यह हैंकि इस प्रकार नेताओं की मदत से पार्टी को तोडना,कमजोर करना इसके लिए इनको बीजेपी में शामिल किया गया है क्योकि ऐसे नेता ब्रोकर होते है पार्टी के. इस वजह से इनको पार्टी में शामिल किया गया है|

source

सबसे पहली बात तो यही हैंकि बीजेपी मायाबती को राज्यसभा में रोकने के लिए नरेश अग्रवाल के कन्धा पर बन्दूक रखकर बार करेगी क्योकि अगर नरेश अग्रवाल ने मायाबती को राज्यसभा जानें से रोक दिया तो जनता की नज़र में मायाबती की राजनीति समाप्त हो जायेगीं|

source

बीजेपी ने 2019 के चुनाव की तैयारी अभी से शुरू कर दी है और बीजेपी का उद्देश्य है की वह लोकसभा के चुनाव में उत्तरप्रदेश से 80 सीटों मेंसे कम से कम 75 सीटों पर अपना कब्ज़ा बरकरार रखना चाहती है, आने बाले लोकसभा के चुनाव में उत्तरप्रदेश में सपा+बसपा+आरएलडी ये सभी गंठबंधन के साथ उत्तरप्रदेश में चुनाव लड़ सकती है. पर बीजेपी इस गंठबंधन पर भी भारी है और लोकसभा चुनाव में 272 से अधिक का लक्ष्य लेकर चल रही है|

source

अगर इस बार राज्यसभा के चुनाव में मायाबती राज्यसभा नही पहुंची तो उनकी राजनीति भी ख़त्म हो जाएगी और आरएलडी भी ख़त्म हो गई और अब बचती है सपा में उल्टा मैसेज जयेगा की मायाबती को राज्यसभा नही पहुंचा पायें और उसका नेता भी पार्टी के हाथ से छूट गया और विधायक भी चलें गये इस प्रकार सपा की भी राजनीति ख़त्म हो जायेंगी|

source

जब मायाबती मुलायम सिंह एक हो सकतें है, लालू नितीश एक हो सकतें हैं तो बीजेपी ने क्या गलत कर लिया नरेश अग्रवाल को अपनी पार्टी में शामिल करके क्योकि राजनीति में यह सब करना जायज है,क्योकि कई काम ऐसे होते हैं जो बिना 2\3 बहुमत के पूरे नही होते है|