छतीसगढ़ में फिर हुआ नक्सली हमला, सीआरपीएफ के 212 बटालियन के नौ जवान हुये शहीद…

आपको बता दे की नक्सली हमले रुकने का नाम ही नही ले रहे हैं आपको बता दे की भारत में इन नक्सली हमलों को रोक पाना बहुत ही बड़ा मुश्किल काम होता जा रहा हैं बता दें की ये नक्सली आये दिन छतीसगढ़ में हमले करते रहते हैं आपको बता दे की ये लोग जरा भी नही सोचते हैं और ये बिना सोचे समझे किसी भी की जान ले लेते हैं पर आज हम आपको जिस खबर के बारे में बताने जा रहे हैं|

source

उसे सुनकर आप लोग चौक जायेंगे, आपको बता दे की अभी अभी नक्सलियो छतीसगढ़ के सुकमा में स्‍थित किस्‍टाराम एरिया में मंगलवार को नक्‍सलियों ने आइइडी विस्‍फोट की घटना को अंजाम दिया आपको बता दे कि इस हमले में सीआरपीएफ के 212 बटालियन के नौ जवान शहीद हो गए और बता दें की इसके अलावा 6 जवान बहुत  बुरी तरह से जख्मी भी हो गये हैं|

source

इसमे से 2 जवानों की हालत बहुत ही गभीर बताई जा रही हैं आपको बता दे की घायल जवानो को हेलीकाप्टर के जरिये रायपुर पहुंचा गया हैं आपको बता दे की इस घटना के बाद गृह मंत्री ने बहुत ही दुःख जताया हैं आपको बता दे की उन्होंने ट्वीट करके कहा की शहीदों के परिवार बालो को मेरी तरफ से हार्दिक सवेंदानाये और उन्होंने इसके आगे लिखा हैं की में घायल जवानों के जल्दी स्वस्थ होने की भगवान से कामना करता हूँ|

source

और उन्होंने इसके आगे कहा की मेने सुकमा की घटना की बात  डीजी सीआरपीएफ से की हैं और उन्हें हमने छतीसगढ़ जाने के लिये कहा हैं नक्‍सल रोधी ऑपरेशन के स्‍पेशल डीजी, डीएम अवस्‍थी ने बताया किस्‍टाराम से पलोडी जा रही पैट्रोलिंग पार्टी पर नक्‍सलियों ने आइइडी ब्‍लास्‍ट किया। अतिरिक्‍त सैन्‍य बल मौके पर पहुंच गयी है फिलहाल फायरिंग बंद है|

source

आपको बता दे की ये कहा जा रहा हैं की ये बटालियन गस्त करने निकली थी तभी करीब साढ़े सात बजे नक्सलियों ने हम पर फायरिंग कर दी और उसी के साथ बताया जा रहा है की नक्सली कम से कम 150 की मात्रा में आये और उन्होंने हमारे जवानों पर अंधाधुंध फायरिंग करना शुरू कर दी इसके बाद जवानों ने वहा मोर्चा सभाला लेकिन इस दौरान उन्होंने बहुत से बिस्फोट भी किये|

source

लेकिन जब जवानों ने भीं जबाबी फायरिंग की तो नक्सली वहां से भाग खड़े हुये लेकिन आपको बता दे की जवान दावा कर रहे हैं की कुछ नक्सली भी मारे गए हैं लेकिन बो लोग जंगल फायदा उठाकर भाग खड़े हुये हालांकि संख्या को लेकर स्थिति स्पष्ट नहीं है। इस घटना को लेकर आईबी का पहले से अलर्ट था। इसमें नक्सलियों द्वारा बड़ी घटना को अंजाम देने की साजिश करना बताया गया था।

वीडियो देखने के लिये यहाँ क्लिक करे –